Advertise Here

क्रिकेट की वापसी बड़े बदलाव के साथ , कल से शुरू इंग्‍लैंड- वेस्‍टइंडीज टेस्‍ट

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण सूना पड़ा क्रिकेट का मैदान 4 महीने बाद बुधवार को फिर से गुलजार होगा. इंग्‍लैंड और वेस्‍टइंडीज (England vs West Indies) के बीच इस महामारी के बाद पहला इंटरनेशन

ऑनलाइन डेस्क :

पूरी दुनिया की नजर 8 जुलाई से इंग्‍लैंड और वेस्‍टइंडीज (England vs West Indies) के बीच शुरू होने वाली तीन टेस्‍ट मैचों की सीरीज पर है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण पिछले चार महीनों से क्रिकेट पूरी तरह से ठप था. मगर अब इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी होने वाली हैं. कोरोना से पहले ऑस्‍ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड के बीच 13 मार्च को सीरीज का पहला वनडे मैच खेला गया था, जिसे ऑस्‍ट्रेलिया ने 71 रनों से जीता था. हालांकि इसके बाद पूरी सीरीज को रद्द कर दिया गया.

इंग्‍लैंड की टीम तीन टेस्‍ट मैचों की सीरीज के लिए वेस्‍टइंडीज की मेजबानी करेगी. पहला मैच 8 जुलाई से साउथेम्प्टन में दोपहर साढ़े तीन बजे से खेला जाएगा. चार महीने बाद यह पहला इंटरनेशनल मैच होगा. पूरी सीरीज बायो सिक्योर वातावरण में होगी.

कोरोना के बाद क्रिकेट की वापसी तो हो रही है, मगर इस पर कोरोना का साफतौर से प्रभाव नजर आएगा. स्‍टेडियम में न तो दर्शक होंगे, न उनका शोर शराबा. विकेट का जश्न भी खिलाड़ी एक दूसरे को गले लगाकर नहीं मना पाएंगे. कोरोना के कारण क्रिकेट के नियमों में जो सबसे बड़ा बदलाव देखने के मिलेगा, वो है गेंद पर लार का इस्‍तेमाल. आईसीसी ने इसे बैन कर दिया है.

वेस्‍टइंडीज ने 21 बार किया इंग्‍लैंड का दौरा:

वेटस्‍इंडीज की टीम ने 21 बार इंग्‍लैंड का दौरा किया, जिसमें से 8 बार जीत दर्ज की. कैरेबियाई टीम ने पिछली बार इंग्‍लैंड का दौरा जेसन होल्‍डर की कप्‍तानी में 2017 में किया था, जहां सीरीज 1-2 से गंवानी पड़ी थी. एक बार फिर टीम की कमान होल्‍डर के पास है.



स्‍टोक्‍स होंगे कप्‍तान: 

इंग्‍लैंड ने पहले टेस्‍ट मैच के लिए अपनी 13 सदस्‍यीय टीम की घोषणा कर दी. बेन स्‍टोक्‍स पहले मैच में टीम की अगुआई करेंगे, क्योंकि जो रूट अपने दूसरे बच्चे के जन्म के कारण आठ जुलाई से शुरू होने वाले पहले टेस्ट में नहीं खेल पाएंगे. 13 सदस्यीय टीम में मोईन अली, विकेटकीपर जॉनी बेयरस्टो और जैक लीच को शामिल नहीं किया गया.

पिच: 

अतिरक्‍त उछाल वाली पिच है. तेज गेंदबाज फायदा उठा सकते हैं. हालांकि अच्‍छी धूप के समय यह पिच बल्‍लेबाजी के लिए बेहतर हो जाता है.

अभ्‍यास पर भी असर:

कोरोना का असर दोनों टीमों के अभ्‍यास पर भी नजर आया. एक दूसरे के खिलाफ अभ्‍यास मैच की बजाय दोनों टीमों ने अपने ही खिलाड़ियों को दो टीमों में बांटकर अपनी अपनी जगह वार्मअप मैच खेला था. इससे पहले वेस्‍टइंडीज की टीम को इंग्‍लैंड पहुंचने पर 14 दिनों के लिए क्‍वारंटाइन रहना पड़ा था.

लार पर बैन: 

गेंदबाज गेंद को चमकाने के लिए उस पर लार या पसीने का इस्‍तेमाल करते थे, मगर अब गेंदबाज गेंद पर लार नहीं लगा पाएंगे. दो चेतावनी के बाद बल्‍लेबाजी टीम को 5 अतिरिक्‍त रन मिलेंगे. अब यह देखना होगा कि लार न लगा पाने से गेंदबाजी कितनी प्रभावित होती है.

नहीं होगे बॉल बॉय: 

कोरोना के बाद शुरू हो रहे इस इंटरनेशनल मैच में बॉल बॉय नजर नहीं आएंगे. इवेंट के डायरेक्‍टर स्‍टीव एलवर्दी के अनुसार अब चौके छक्‍के लगने पर बाउंड्री से बाहर गई गेंद को रिजर्व खिलाड़ी ग्‍लव्‍स पहनकर खुद लाएंगे. हर गेंद को फेंकने के बाद उसे संक्रमण मुक्‍त करना होगा और इसकी पूरी तरह से जिम्‍मेदारी अंपायर की होगी.

कोरोना सब्सटीट्यूट: 

पिछले साल क्रिकेट की दुनिया में कन्‍कशन सब्सटीट्यूट ने कदम रखा था और ऑस्‍ट्रेलिया के मार्नस लाबुशेन इतिहास के पहले कन्‍कशन खिलाड़ी बने थे. मगर कोरोना ने कोरोना सब्सटीट्यूट को भी लागू करने पर मजबूर कर दिया है. मैच के दौरान अगर कोई खिलाड़ी पॉजिटिव पाया जाता है तो उसकी जगह पर सब्सटीट्यूट उतारा जा सकता है.

कोहनी से जश्‍न: 

अभी तक खिलाड़ियों को विकेट का जश्‍न गले मिलकर मनाते हुए देखा गया है, मगर जश्‍न पर अब कोरोना का असर नजर आएगा. खिलाड़ी विकेट का जश्‍न गले मिलकर या हाथ मिलाकर नहीं मना सकते. खिलाड़ी अब कोहनी मिलाकर जश्‍न मनाते हुए नजर आएंगे.

मैदान के बाहर: 

अभी तक खिलाड़ी अंपायर को स्‍वेटर, कैप आदि सामान दे देते थे, खासकर गेंदबाज. मगर अब उन्‍हें अपने इन सामान को मैदान के बाहर रखना होगा. यही नहीं एक खिलाड़ी दूसरे खिलाड़ी के सामान का इस्‍तेमाल भी नहीं कर सकता.

टॉस पर भी असर : 

टॉस में समय अब रेफरी के अलावा सिर्फ कप्‍तान ही मैदान पर मौजूद होंगे. टॉस के समय अब न तो कोई ग्राउंड स्‍टाफ होगा और न ही कैमरामैन होगा. इन लोगों को खिलाड़ियों से 20 मीटर की दूरी पर भी रहना होगा. टॉस के समय कप्‍तान एक दूसरे से हाथ भी नहीं मिला पाएंगे.

बेल्‍स होंगे सैनिटाइज:

 कोरोना से बचाव के लिए बेल्‍स तक को सैनिटाइज किया जाएगा. ब्रेक के दौरान अंपायर खुद बेल्‍स को सैनिटाइज करेंगे. मैच के दौरान मैदान पर 70 ऑटोमेटिक सेंसरयुक्‍त हैंड सैनिटाइजर मशीनें होंगी. इन मशीनों को दबाना नहीं होगा.

13 सदस्यीय इंग्‍लैंड टीम :

 बेन स्टोक्स (कप्तान), जेम्स एंडरसन, जोफ्रा आर्चर, डॉम बेस, स्टुअर्ट ब्रॉड, रोरी बर्न्स, जोस बटलर (विकेटकीपर), जाक क्रॉले, जो डेनली, ओली पोप, डॉम सिबले, क्रिस वोक्स, मार्क वुड.

वेस्‍टइंडीज टीम:

 जेसन होल्‍डर, ब्‍लैकवुड, बोनर, क्रेग ब्रेथवेट, शमर ब्रुक्‍स, जॉन केंपबेल, रोस्‍टन चेस, रहीकम कॉर्नवाल, शेन डोरिच, शेनॉन ग्रैबिएल, चीमार होल्‍डर, शाई होप, अल्‍जारी जोसेफ, रेमून, केमार रोच

अन्य खबरें